महिला को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी

महिला को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी

देहरादून। थाना राजपुर क्षेत्र के अंतर्गत महिला को नौकरी दिलाने के नाम लाखों रुपए की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। पीड़ित महिला की शिकायत पर पुलिस ने दो आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि आरोपियों ने महिला को दो लाख रुपए लेकर रोहतक में लेक्चरर की नौकरी दिलाने का भरोसा दिया था। वहीं, महिला ने शक होने पर दोनों से पैसे मांगने पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप भी लगाया है।

दून विहार जाखन निवासी अपूर्वा रस्तोगी ने हरियाणा के भिवानी में रहने वाले पुरुषोत्तम दास और सहारनपुर निवासी वकार पर घोखाधड़ी का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि उनके ससुर की इन दोनों से पुरानी जान-पहचान थी। 11 अक्टूबर 2019 को दोनों ने घर आकर उन्हें नौकरी का भरोसा दिलाकर दो लाख रुपए मांगे। महिला ने उनकी बातों में आकर उन्हें दो लाख रुपए और शैक्षिक प्रमाण पत्र दे दिए। इसके बाद 24 अक्टूबर को दोबारा दोनों आरोपी महिला के घर आए और नौकरी लगने की बात कही।

दून विहार जाखन निवासी अपूर्वा रस्तोगी ने हरियाणा के भिवानी में रहने वाले पुरुषोत्तम दास और सहारनपुर निवासी वकार पर घोखाधड़ी का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि उनके ससुर की इन दोनों से पुरानी जान-पहचान थी। 11 अक्टूबर 2019 को दोनों ने घर आकर उन्हें नौकरी का भरोसा दिलाकर दो लाख रुपए मांगे। महिला ने उनकी बातों में आकर उन्हें दो लाख रुपए और शैक्षिक प्रमाण पत्र दे दिए। इसके बाद 24 अक्टूबर को दोबारा दोनों आरोपी महिला के घर आए और नौकरी लगने की बात कही। साथ ही आरोपियों ने महिला को नियुक्ति पत्र भी दिया। इस पर परिजनों ने दोनों आरोपियों को दो लाख नकद और एक लाख का चेक दे दिया। नियुक्ति पत्र में 6 नवंबर 2019 की तारीख दी गई थी, लेकिन जब वह यूनिवर्सिटी पहुंची तो पता चला की नियुक्ति पत्र फर्जी है। वहीं, महिला अपने पति के साथ पुरुषोत्तम के घर भिवानी गई तो उसने जान से मारने की धमकी देकर वहां से भगा दिया। मामले को लेकर थाना राजपुर प्रभारी राकेश शाह ने बताया कि पीड़ित महिला की तहरीर के आधार पर पुरुषोत्तम और वकार के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *