प्रदेश में 389 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले, 8 की मौत

प्रदेश में 389 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले, 8 की मौत

देहरादून। उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में आठ कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हुई और 389 नए संक्रमित मरीज मिले हैं। देहरादून और पौड़ी जिले में संक्रमित मामले बढ़े हैं। संक्रमितों की तुलना में कम मरीज ठीक हुए हैं। वहीं, सक्रिय मरीजों की संख्या भी 5000 के करीब पहुंच चुकी है।
स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, रविवार को 11400 सैंपल जांच में निगेटिव मिले हैं। बीते 24 घंटे में सबसे अधिक 146 संक्रमित मरीज देहरादून जिले में मिले हैं। पौड़ी में 57, हरिद्वार में 49, ऊधमसिंह नगर में 33, टिहरी में 24, चमोली में 21, उत्तरकाशी में 18, चंपावत में 10, रुद्रप्रयाग में नौ, पिथौरागढ़ में सात, अल्मोड़ा में सात, नैनीताल में छह, बागेश्वर जिले में दो संक्रमित मिले हैं। आज मृतक आठ मरीजों में से एम्स ऋषिकेश में दो, हिमालयन हॉस्पिटल में तीन, कैलाश हॉस्पिटल में दो, दून मेडिकल कॉलेज में एक मरीज ने दम तोड़ा है। अब तक प्रदेश में 1222 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं, आज 278 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया। इन्हें मिला कर 67475 मरीज स्वस्थ  हो चुके हैं। ठीक होने वाले मरीजों से ज्यादा संक्रमित मामले मिलने से सक्रिय मरीज 4970 हो गई है। उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के लिहाज से बीता सप्ताह बेहद ही खराब रहा। कोविड जांच बढ़ने के साथ ही संक्रमित मामले बढ़े हैं। 24 अक्तूबर के बाद एक सप्ताह में सबसे अधिक 68 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। जबकि ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में गिरावट आई है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण का पहला मामला 15 मार्च को मिला था। तब से कोरोना काल को 259 दिन बीत गए हैं। सर्दी बढ़ने के कारण प्रदेश में फिर से कोरोना संक्रमण में तेजी आने लगी है। 37 वें सप्ताह में 22 से 28 नवंबर तक प्रदेश में 79517 लोगों की कोविड जांच की गई है, इनमें से 3161 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। पिछले सप्ताह की तुलना में स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिए जांच बढ़ाई है। जिसके साथ ही संक्रमित मामले भी बढ़े हैं। बीते सप्ताह में 68 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। वहीं, साप्ताहिक रिकवरी दर में कमी दर्ज की गई है। 36 वें सप्ताह में 2955 संक्रमित मरीज ठीक हुए थे। जबकि बीते सप्ताह में 2346 मरीज स्वस्थ हुए हैं। वर्तमान में ठीक होने वाले मरीजों की तुलना में संक्रमितों की संख्या ज्यादा है।

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *